आज सुबह ही बीवी का फोन आया.
रो रही थी ...
मुझको सॉरी कहा ...
उसी रोते हुये स्वर में वह यह भी बोली ...
तुमसे कभी झगड़ा नहीं करूंगी ... सब कुछ सुनूंगी ...
जो कहोगे करुँगी
ये सब सुनकर मेरा भी दिल भर आया ...
.
.
.
.
पता नहीं किसकी बीबी थी ...
राँग नबंर था, लेकिन अच्छा लगा .....!!!
😆😆😆😆😆😆😆

No comments:

Post a Comment