Student Ka कन्फ्यूज़न

खबर पढ़ी चेन्नई में स्कूल टीचर ने स्टूडेंट को थप्पड़ मारने के कारण ५०००० रुपये का भुगतान करना पड़ा। 

अगर हमारे स्कूल वाले ज़माने में ये रिवाज होती तो मेरे साथ हुई  कुटाई के बदले में मेरे पास भी आज 

४-५ फ्लैट होते 

२-४ बड़ी गाड़िया 
फार्महाउस 
और स्विस बैंक में मेरा खुद का खाता होता :)
आधा बचपन तो साला इसी कन्फ्यूज़न में बीत गया कि 

समबाहु, विषमबाहु और समद्विबाहु त्रिभुज के नाम है या राक्षसों के ?
:)


स्कूल में जब पहली बार पता चला साइकोलॉजी की स्पेलिंग C से या S से नहीं बल्कि P से शुरू होती है। .......... .. कसम से उसी से अंग्रेजी से भरोसा टूट सा गया था :( :(


:) :)
एक लड़की रोज सुबह १० बजे पेड़ की 
डाल पर बैठ जाती 
और शाम ५ बजे उतर जाती 
. . . 
. . . 

. . 
MBA करके पागल हो गयी थी। 
खुद को ब्रांच मैनेजर समझती थी। 
:( :(
:( 

No comments:

Post a Comment